इंट्राडे ट्रेडिंग कैसे करे | Intraday Trading Kaise Kare in Hindi 2022

दोस्तों क्या आप भी चाहते हो शेयर बाजार के बारे में हिंदी में पड़ना? अगर हां तो इस आर्टिकल को पूरा पढ़िए, आज आपको इस आर्टिकल में (Intraday Trading) इंट्राडे ट्रेडिंग क्या है और इंट्राडे ट्रेडिंग कैसे करे (Intraday Trading Kaise Kare Hindi) के बारे में जानने को मिलेगा. मुझे उम्मीद है इसके बाद आपको कोई और आर्टिकल पड़ने का जरूरत नहीं है इंट्राडे ट्रेडिंग के बारे में.

शेयर बाजार के बारे में हम सभी को पता है. आज कल हर कोई चाहता है घर बैठे पैसे कमाना. ऐसे में ज्यादा से ज्यादा लोग शेयर बाजार में आपने पैसा लगा रहे है पैसा से पैसा कमाने के लिए. शेयर बाजार में आप बोहोत तरीको से पैसा इन्वेस्ट कर सकते हो जैसे म्यूच्यूअल फंड्स, स्टॉक्स, इक्विटी, आईपीओ, गोल्ड इत्यादि. जब भी आप शेयर बाजार में कोई स्टॉक या शेयर खरीदने जायेंगे तब आपको दो ऑप्शन दिखेगा डिलीवरी और इंट्राडे ट्रेडिंग. आज हम आपको इंट्राडे ट्रेडिंग के बारे में बताएँगे. साथ में आपको ये भी पता चलेगा इंट्राडे ट्रेडिंग और डिलीवरी ट्रेडिंग में कोनसा अच्छा है और क्या फरक है इन दोनों के बीच में.

इंट्राडे ट्रेडिंग के बारे में पूरी तरीके से जानने से पहले आपको शेयर मार्केट के बारे में थोड़ा पता होना जरूरी है. ऐसे में कोई भी चाहे तो वह आपने पैसे को इंट्राडे ट्रेडिंग करके इस्तेमाल कर सकते है. लेकिन ये ऊनि लोगो के लिए बढ़िया है जो एक फुल टाइम ट्रेडर है. इसमें पैसा कमाने का भी बोहोत अच्छा मौका रहता है और जल्द पैसा डुबाने का भी. इसलिए इंट्राडे ट्रेडिंग डिलीवरी ट्रेडिंग से ज्यादा रिस्की है.

Intraday Trading क्या है

नाम सुनके ही सायद आपको मालूम चल गया होगा इसके बारे में. इंट्राडे ट्रेडिंग का मतलब है किसी भी शेयर को एक ही दिन में खरीदके उसे उसी दिन बेच देना. इंट्राडे ट्रेडिंग में आपको शेयर को कम पैसा में खरीदने का मौका मिलता है और फिर प्रॉफिट मिलने पर आप उसे ज्यादा पैसा में बेच सकते है. डिलीवरी ट्रेडिंग के मुक़ाबले इंट्राडे ट्रेडिंग में आपको किसी भी शेयर को बोहोत कम कीमत में खरीदने का मौका मिलता है.

इंट्राडे ट्रेडिंग ज्यादातर फुल टाइम इन्वेस्टर इस्तेमाल करते हैं. उन्हें हर वक़्त शेयर के प्राइस को देखते रहना पड़ता है और एक टारगेट तय करना होता हैं. फिर कुछ समय बाद उन्हें शेयर को बेचना भी पड़ता हैं.

Intraday Trading कैसे करे

शेयर मार्केट में निवेश करने से पहले आपको एक Demat Account बनाना पड़ेगा. आप किसी भी एक Trading App से आपने खुदका Demat Account बना सकते हो. कुछ जरूरी डॉक्यूमेंट देने के बाद आपका Demat Account बनके तैयार हो जायेगा. और फिर आप ट्रेडिंग और इन्वेस्टमेंट करने के लिए तैयार हो.

  • सबसे पहले Trading App में आकर कोई एक शेयर को चुनिए.
  • उसके बाद उसका Quantity और Price डालिए.
  • फिर Type में आपको Delivery या Intraday में से किसी एक को चुनना होगा.
  • अगर आप Intraday Trading करना चाहते हो Intraday को चुनिए.
  • इसके बाद पेमेंट करते ही आपके Portfolio में स्टॉक्स दिखने लगेंगे.
  • Intraday Trading में आपको हर वक़्त शेयर प्राइस देखना पड़ता है.
  • और फिर सही समय आने पर उसे बेचना पड़ता है.

इंट्राडे ट्रेडिंग की मूल बातें

इंट्राडे ट्रेडिंग का मतलब होता है किसी भी शेयर को खरीदके उसे उसी दिन बेच देना. अगर आप ऐसा नहीं करते है तो आपके ब्रोकर आपके इंट्राडे ट्रेडिंग से खरडीए गए शेयर को उसी दिन मार्केट बंद होने पर बेच देगा.

इस प्रकार का ट्रेडिंग ज्यादातर अनुभवी ट्रेडर के लिए फायदे देता है. क्योंकि इंट्राडे ट्रेडिंग के जरिए वह कुछ घंटो में काफी सारा पैसा बना सकता है. लेकिन सिर्फ इतना ही नहीं मार्किट गिरने पर काफी सारा पैसा का नुकसान भी होता है इंट्राडे ट्रेडिंग में. इसीलिए अगर आप सोच रहे है किसी भी शेयर को खरीदके चोर देने की तो आपको काफी दिक्कत आ सकती है. इंट्राडे ट्रेडिंग में आपको हर वक़्त मार्किट को एनालिसिस करना पड़ता है और एक टारगेट प्राइस तय करना होता है.

Intraday Trading rules Hindi

मानलीजिए किसी दिन सुभे में एक शेयर का कीमत है ₹500. अगर आप इस शेयर के 1000 मात्रा में खरीद लेते हो और कुछ घंटो में अगर शेयर का कीमत ₹550 हो जाता है तो आपको ₹50,000 का फ़ायदा हो जायेगा. ये होता है इंट्राडे ट्रेडिंग का फ़ायदा जहा पर आप कुछ ही घंटो में प्रॉफिट बना सकते हो.

ये भी पढ़िए: फ्लिपकार्ट एफिलिएट मार्केटिंग कैसे करे

Leveraging Meaning in Intraday Trading

इंट्राडे ट्रेडिंग में आप Leverage का फ़ायदा भी उठा सकते हो. इसका मतलब है आपके ब्रोकर आपको काम कीमत में शेयर ख़रीदनेमे मदत करेगा. मन लीजिये किसी एक शेयर का प्राइस है ₹10 और आपके अकाउंट में सिर्फ ₹100 है. तो आप उस शेयर का 10 Quantity ले सकते हो. आपके शेयर का प्राइस गिर भी सकता है और अधिक भी हो सकता है. इस मे आप Stop Loss भी लगा सकते हो जिससे शेयर प्राइस गिरने पर आपको ज्यादा नुकसान नहीं होगा.

अब ब्रोकर को 10 शेयरों पर ही ब्रोकरेज मिलता है। अब यदि वह आप से और अधिक व्यवसाय प्राप्त करना चाहता है तो वह आपको 10 रुपये के 40 शेयरों की खरीद या 2 रुपये का स्टॉप लॉस लगाने पर 4 गुना लीवरेज का लाभ देगा। इससे ब्रोकर को 4 गुना Brokerage मिलेगा. और अगर आपको नुकसान होता है तो आपको ₹80 का नुकसान होगा और फिर आपके पास ₹20 Capital रह जायेगा. आपके ट्रेड करने पर आपके ब्रोकर को कोई लॉस नहीं होगा वल्कि वह ज्यादा ब्रोकरेज कमा पायेगा.

ये भी पढ़िए: एफिलिएट मार्केटिंग कैसे करे

Delivery Trading vs Intraday Trading

अगर आप किसी एक शेयर को खरीदके उसे बोहोत दिनों तक होल्ड करके रखते है तो उसे Delivery Trading कहा जाता हैं. और दूसरी तरह एक दिन के अन्दर शेयर खरीदके बेचने को Intraday Trading कहा जाता हैं.

अलग अलग Trading Apps आपसे Intraday Trading के लिए चार्ज करता हैं. जैसे Paytm Money Charges है ₹10/order तो वही कुछ और Trading Apps इंट्राडे के लिए ₹20/order चार्जेज लेता हैं.

Intraday Trading Rules Hindi

अगर आप इंट्राडे ट्रेडिंग करना चाहते हो तो आपको काफी सरे चीज़ो का ध्यान रखना चाहिए. ऐसे करने पर आपको काफी फ़ायदा मिल सकता है. और आपका इंट्राडे ट्रेडिंग एक्सपीरियंस अच्छा होता चला जायेगा.

  1. सबसे पहले एक अच्छा स्टॉक तय कीजिये.
  2. High Liquidity और Volatility वाले स्टॉक को खरीदने का कोसिस कीजिए.
  3. उस दिन के Chart को फॉलो कीजिए.
  4. Stock के entry, exit और stop price तय कीजिए.
  5. उतने पैसा का ट्रेड कीजिए जो डूबने पर आपको ज्यादा परिशानी न हो.
  6. इंट्राडे ट्रेडिंग करने से पहले अच्छा research कीजिए.

Intraday Trading Charges

Intraday TradingCharges
1. Paytm Money₹10 / Order
2. Groww₹20 / Order
3. Zerodha₹20 / Order or 0.03% (whichever is lower)
4. Upstox₹20 / Order or 0.05% (whichever is lower)
5. Angel One₹20 / Order or o.25% (whichever is lower)

FAQs On Intraday Trading

1. इंट्राडे ट्रेडिंग क्या हैं?

जब आप किसी शेयर को एक ही दिन में खरीदके उसी दिन उसे बेच डालते हो तो उसे इंट्राडे ट्रेडिंग कहा जाता हैं. अगर आप इंट्राडे में ख़रीदे गए शेयर उसी दिन न बेचते हो तो आपके ब्रोकर उस दिन के मार्केट क्लोज होने पर बेच देता हैं.

2. शेयर मार्किट में इंट्राडे ट्रेडिंग कैसे करे?

किसी भी एक स्टॉक को खरीद ने से पहले Type में से जाकर उसको Intraday करके आप Intraday Trading कर सकते हो.

3. ट्रेडिंग कितने प्रकार के होते हैं?

शेयर बाजार में ट्रेडिंग चार प्रकार के होते है जैसे Short Term, Long Term, Intraday और Swing Trading.

4. इंट्राडे ट्रेडिंग से पैसे कैसे कमाए?

दोस्तों अगर आप इंट्राडे ट्रेडिंग से पैसा कमाना चाहते हो तो आपको काफी नज़र रखना होगा और सही समय आने पर शेयर को बेच देना पड़ेगा. ज्यादातर ट्रेडर इंट्राडे में शेयर खरीदके उसे कुछ ही घंटो में बेच के प्रॉफिट बना लेता हैं.

5. कोनसा ट्रेडिंग ऐप सबसे अच्छा है इंट्राडे ट्रेडिंग करने के लिए?

ज्यादातर ऐप्स इंट्राडे ट्रेडिंग के लिए ₹20/order चार्ज लेता है. लेकिन Paytm Money में आपको Intraday Trading के लिए ₹10/order चार्ज देना होगा. इसीलिए मुझे लगता हैं Paytm Money काफी अच्छा एक ट्रेडिंग ऐप है इंट्राडे ट्रेडिंग करने के लिए.

Arpan Banerjee

Arpan Banerjee इस ब्लॉग का एक लेखक है. अर्पन का पेशा है ब्लॉग लिखना और वीडियो बनाना. अर्पण को शेयर मार्केट, क्रिप्टोकोर्रेंसी और इन्वेस्टमेंट के ऊपर जानकारी लेना और उसके बारे में लोगोको बताना काफी अच्छा लगता है. आप इस ब्लॉग पर एफिलिएट मार्केटिंग, शेयर मार्केट और क्रिप्टोकोर्रेंसी के ऊपर हिंदी में आर्टिकल पड़ पाएंगे.

Leave a Comment

close