BSc Full Form in Hindi | बीएससी का फुल फॉर्म क्या होता है

नमस्कार दोस्तों, में आशा करता हूँ आप सभी लोग अच्छे हैं. आज हम आपको इस ब्लॉग में बताएँगे Bsc Full Form क्या हैं हिंदी में. अगर आप भी जानना चाहते बीएससी का फुल फॉर्म क्या हैं और बीएससी का पूरा नाम हिंदी में जानना तो इस ब्लॉग को पूरा पढ़िए. इस ब्लॉग को पड़ने के बाद आपको बीएससी से जुड़ी काफी सरे सवालो का जबाब आसान भासा में मिलेगा.

बी ए के जैसा बीएससी भी एक स्नातक कोर्स है जिसे करने के लिए आपको 12th पास होना पड़ेगा. ज्यादातर खेत्रो में जो बच्चे अपने 11 और 12 क्लास में बिज्ञान ले कर पढाई करते हैं वह बीएससी करने के लायक होता हैं. हलाकि गणित, फिजिक्स, केमिस्ट्री, बायोलॉजी के अलावा जियोग्राफी, कंप्यूटर जैसे बिसय पर भी बीएससी किया जा सकता हैं.

बीएससी में आप किसी एक बिसय में होनोर्स कर सकते हो. अलग अलग विश्वविद्यालय में अलग अलग नियम होता हैं. हमारे बंगाल में किसी एक विषय पर होनोर्स करने के साथ आपको दो और विषय पास कोर्स के तहत पड़ना होता हैं पहले दो साल के लिए. ये एक तीन साल का कोर्स हैं. हलाकि कोई चाहे तो इससे 4 या 5 साल में भी पूरा कर सकता हैं.

ये भी पढ़िए: टर्म इन्शुरन्स क्या होता हैं

BSc Full Form in Hindi

ग्रेजुएशन के लिए हम इंटरमीडियट के बाद तीन बिभाग में से किसी एक को चुनते है। इनमे से एक BSC एक बिभाग है। आज हम आपको इस बिभाग के बारे में जानकारी देने बाले है। BSC क्या है और इसका फुल फॉर्म क्या है BSC Full Form है Bachelor of Science जिसे हिंदी में बिज्ञान में स्नातक कहते है। तो आपको पता चल गया है की BSC का Full Form क्या है और BSC Meaning in Hindi भी आपको समझ आ गया होगा।

BSC एक तीन बर्षीय स्नातक कोर्स है। BSC (Bachelor of Science) करने के बाद ही किसी स्टूडेंट को बिज्ञान बिषय पर स्नातक की डिग्री मिलती है।

ये भी पढ़िए: स्माल बिज़नेस आईडिया

BSc क्या है

हमने पहले ही आपको बताया है की BSc क्या है और इसका Full Form क्या है। BSc का Full Form Bachelor of Science है। BSc के hindi meaning है बिज्ञान में स्नातक। इंटरमीडियट में तीन बिषय होते है Science, Arts, और Commerce. हमारे देश अधिकतर छात्र उच्च शिक्षा हेतु Science बिभाग को चुनते है। और जो छात्र Science बिभाग से ग्रेजुएशन सम्पूर्ण करते है उन्हें ही सिर्फ BSc (Bachelor of Science) करने का मौक़ा मिलता है।हमारे देश के अधिकतर छात्र BSc को प्राथामिकता देते है उच्चो शिक्षा हेतु।

अधिकतर छात्र BSc (Bachelor of Science) को चुनते है अपनी उच्चो शिक्षा प्राप्त करने के लिए और आगे अपना कैरियर बनाने के लिए भी BSc (Bachelor of Science) को चुनते है। BSc Bachelor of Science से पास करने के बाद ही एक छात्र अपने उच्चो शिक्षा हेतु MSc भी करते है। आज हम इस airticle में BSc से सम्बंधित सभी जानकारी देने वाले है।

BSc बिज्ञान का एक विभाग है जिसको इंटरमीडिएट के बाद अधिकतर स्टूडेंट अपने करियर को आगे बढ़ाने के लिए चुनते है। अगर आप एक स्टूडेंट हो और आप भी BSc से एडमिशन लेकर अपना करियर आगे बढ़ाने के बारे में सोच रहे हो तो इस आर्टिकल आपके लिए बहुत ही लावदायक होगी।

BSc से पास करने के बाद नहीं आप सिर्फ अपना करियर को ही आगे बढ़ाएंगे बल्कि इससे आपका तर्कशक्ति का भी बिकास होगी। bsc के बाद आपके लिए आगे करियर बनाने हेतु बहुत सारे भी मिलेंगे। जिस बिषय को लेकर आप आगे बढ़ना चाहते हो आप उसी बिसय को लेकर अपना करियर बना सकते हो।

BSc (bachelor of Science) के 2 मुख्य बिभाग है

  1. Bachelor of Science (General)
  2. Bachelor of Science (Honours)

ये भी पढ़िए: घरेलु महिला के लिए बिज़नेस आईडिया

BSc (Bachelor of Science) से एडमिशन लेने हेतु पात्रता

अगर आप भी BSc (Bachelor of Science) में एडमिशन लेना चाहते हो तो निम्नलिखित पात्रता को जानना आपके लिए आबश्यक है –

  • सबसे पहले आबेदक को इंटरमीडिएट में उत्तीर्ण होना होगा किसी भी मान्यता प्राप्त बोर्ड से।
  • BSc में एडमिशन के लिए आबेदक को इंटरमीडियट में नुन्यतम मार्क्स प्राप्त करना होगा।
  • एडमिशन के लिए इंटरमीडियट में बिज्ञान बिषय होना आबश्यक है।
  • एडमिशन के लिए आबेदक को मेरिट लिस्ट अपना नाम आना जरुरी है।
  • इसके एलाभा एडमिशन के लिए मांगी गयी documents भी आबेदक को करना होगा।

ये भी पढ़िए: NFT क्या हैं

BSc में बिषय

हमारे देश में BSc के लिए Fhysics, Chamistry, Mathematics, Biology जैसे सब्जेक्ट्स होते है। इसके एलाभा बहुत सरे सब्जेक्ट्स होते है BSc में जैसे –

Botany

Zoology

Biochemistry

Computer Science

Environmental Science

BSc करने का क्या लाभ है

BSc क्या है जानने के साथ साथ आज हम आपको इसके लाभ के बारे में भी बताएँगे।

BSc पास करने के बाद आप बिज्ञान के इस बिषय पर स्नातक बन जाओगे।इसके बाद आप उच्चो शिक्षा हेतु अपना करियर को आगे बढ़ाना सकते है।

BSc के बाद आप चाहे तो MSc भी कर सकते है।

BSc करने के बाद नहीं आप आगे अपना करियर को आगे बढ़ाएंगे बल्कि आपका तर्कशक्ति भी बिकसित होती है।

BSc Honours करने के बाद आप किसी एक बिषय पर स्नातक बन जाओगे। अगर आप इस बिषय के शिक्षक बनना चाहते हो तो इस बिषय को लेकर आप अपना करियर बना सकते हो।

BSc के बाद क्या क्या option है

BSc के बाद कई सरे ऑप्शन होती है अपने उच्चो शिक्षा करने हेतु। अगर आप BSc करने के बाद आगे पढ़ाई करना चाहते हो तो इसके लिए आप MSc का फॉर्म फिल अप कर सकते हो और अपना शिक्षा को आगे ले जा सकते हो।

अगर आप school teacher बनना चाहते हो तो B.Ed भी कर सकते हो और अपना करियर को आगे ले जा सकते हो।

BSc के बाद आप M.Sc, BBA, MBA, B.Tech, M.Tech भी कर सकते हो।

BSc के बाद कोन कोन सी सरकारी परीक्षाए दिए जाते है

  • भारतीय वन सेवा परीक्षा
  • यूपीएससी परीक्षा
  • रेलवे परीक्षा
  • बैंक परीक्षा
  • एलआईसी एएओ परीक्षा

BSc (Bachelor of Science) करने के बाद आपके पास बहुत option होती है।BSc के बाद आप MSc भी कर सकते और उसके बाद आप चाहे तो Ph.D भी कर सकते है।

BSc के बाद क्या क्या काम मिलते है

  • Hospitals
  • Oil Industry
  • Aquariums
  • Wastewater Plants
  • Research Industry
  • Forest Service
  • Food Industry
  • Testing Laboratories
  • Health Care Providers
  • Space Research Institutes
  • Pharmaceuticals and Biotechnology Industry etc.

BSc के बाद जॉब क्या क्या मिलता है

  • Teacher
  • Doctor
  • Nurse
  • Lecturer
  • Professor
  • Technical Writer / Editor
  • Clinical Research Manager
  • Pharmacist
  • Ecologist
  • Scientist
  • Laboratory Technician etc.

ये भी पढ़िए: ओटीटी फुल फॉर्म

FAQs: बीएससी का पूरा नाम

1. बीएससी का पूरा नाम क्या हैं?

बीएससी का पूरा नाम विज्ञान स्नातक (Bachelor of Science) होता हैं.

2. BSc के बाद क्या करना चाहिए?

बीएससी पास होने के बाद आप एमएससी या फिर कोई नौकरी जैसे एसएससी, टेट के लिए तैयारी कर सकते हो.

3. एमएससी का पूरा नाम क्या हैं?

MSc का full form हैं Master of Science (विज्ञान के मास्टर).

4. BSc पड़ने से पहले क्या पड़ना चाहिए?

BSc पड़ने से पहले आपको 12th पास होना पड़ेगा.

5. BSc (Bachelor of Science) के लिए एडमिशन कैसे ले?

BSc (Bachelor of Science) के एडमिशन के लिए 2 तरीका होती है पहला डायरेक्ट एडमिशन और दूसरा एंट्रेंस बेस पर एडमिशन.

Arpan Banerjee

Arpan Banerjee इस ब्लॉग का एक लेखक है. अर्पन का पेशा है ब्लॉग लिखना और वीडियो बनाना. अर्पण को शेयर मार्केट, क्रिप्टोकोर्रेंसी और इन्वेस्टमेंट के ऊपर जानकारी लेना और उसके बारे में लोगोको बताना काफी अच्छा लगता है. आप इस ब्लॉग पर एफिलिएट मार्केटिंग, शेयर मार्केट और क्रिप्टोकोर्रेंसी के ऊपर हिंदी में आर्टिकल पड़ पाएंगे.

Leave a Comment

close